Thomas Edison photo

Top 20 Thomas Edison Quotes to Motivates You to Never Quit

Thomas Edison is the great inventor and American businessman. He was a famous inventor who has done many inventions in the field of electrical power generation, Long-lasting electrical bulbs. He wrote many quotes we have gathered Top 20 Thomas Edison Quotes

Thomas Edison has worked as a telegraph operator and he has become synonymous of genius and creativity. He Died in 1931.

Let’s find out Top 20 Thomas Edison Quotes

"Our greatest weakness lies in giving up. The most certain way to succeed is always to try just one more time".  - Thoughts of Thomas alva Edison

1. “Our greatest weakness lies in giving up. The most certain way to succeed is always to try just one more time”. – Thoughts of Thomas alva Edison

“हमारी सबसे बड़ी कमजोरी हार मानने में निहित है। सफल होने का सबसे निश्चित तरीका हमेशा एक बार और प्रयास करना है।”- Thomas alva Edison

Best Quotation of Life by Thomas Edison

2. “I have not failed. I’ve just found 10,000 ways that won’t work”.- Thomas alva Edison

    “मैं फेल नहीं हुआ हूं। मुझे 10,000 ऐसे तरीके मिले हैं जो काम नहीं करते हैं ।”

"Opportunity is missed by most people because it is dressed in the overalls and looks like hard work".- Thomas alva Edison

3. “Opportunity is missed by most people because it is dressed in the overalls and looks like hard work”.- Thomas alva Edison

“अवसर अधिकांश लोगो से छुट जाता है क्योंकि यह रहस्य से छुपा होता है और कार्य के जैसा    दिखता है।”

4. “Your worth consists in what you are and not in what you have”.- Thomas alva Edison

“आपकी कीमत इसमें है कि आप क्या है, इसमें नहीं कि आपके पास क्या है।”

The best thinking has been done in solitude. The worst has been done in turmoil. - Thomas alva Edison

5. The best thinking has been done in solitude. The worst has been done in turmoil. – Thomas alva Edison

सबसे अच्छी सोच एकांत में की गई है। सबसे बुरा हाल अशांति में हुआ है।

 

6. “Vision without execution is hallucination”. – Thomas alva Edison

“निष्पादन के बिना लक्ष्य भ्रम है।”

"Many of life’s failures are people who did not realise how close they were to success when they give up".- Thomas alva Edison

7. “Many of life’s failures are people who did not realise how close they were to success when they give up”.- Thomas alva Edison

“बहुत सरे लोग जिन्होंने अपने जीवन में असफ़लता  को प्राप्त किया है वह यह नहीं जानते की उन्होंने अपने सफ़लता के  कितने करीब थे जब उन्होंने हार मानी थी।”

8. “There is no substitute for hard work”.- Thomas alva Edison

“मेहनत से किये गए कार्य का कोई विकल्प नहीं है।”

"Not everything of value in life comes from BOOKS – EXPERIENCE the     world."- Thomas alva Edison

  9. “Not everything of value in life comes from BOOKS – EXPERIENCE the     world.”- Thomas alva Edison

“जीवन में मूल्य की हर चीज किताबों से नहीं आती है – दुनिया में अनुभव।”

 10. “Good fortune often happens when opportunity meets with preparation”.- Thomas alva Edison

“सौभाग्य अक्सर तब होता है जब अवसर तैयारी के साथ मिलता है।”

11. “We shall have no better conditions in the future if we are satisfied with all those which we have at present.”- Thomas alva Edison

“भविष्य में हमारे पास कोई बेहतर स्थिति नहीं होगी यदि हम उन सभी से संतुष्ट हैं जो वर्तमान में हमारे पास हैं।”

 "The three great essentials to achieve anything worthwhile are: Hard Work, Stick-to-itiveness and common sense".- Thomas alva Edison

 

12. “The three great essentials to achieve anything worthwhile are: Hard Work, Stick-to-itiveness and common sense”.- Thomas alva Edison

“तीन सबसे महत्वपूर्ण और जरुरी चीज़ जिससे आप जीवन में कुछ भी प्राप्त कर  सकते हो कड़ी मेहनत, सकरात्मक विचारो से जुड़ा रहना और सामन्य ज्ञान।”

Inspiration can be found in a pile of junk. Sometimes, you can put it together with a good imagination and invent something.

13. “Inspiration can be found in a pile of junk. Sometimes, you can put it together with a good imagination and invent something”.- Thomas alva Edison

“प्रेरणा कबाड़ के ढेर में मिल सकती है। कभी-कभी, आप इसे एक अच्छी कल्पना के साथ जोड़ सकते हैं और कुछ आविष्कार कर सकते हैं।”

14. “If we did all the things we are capable of, we would literally astound ourselves”. – Thomas alva Edison

“यदि हम उन सभी चीजों को करते हैं जो हम करने में सक्षम हैं, तो हम सचमुच खुद को चकित कर देंगे।”

15. “Just because something doesn’t do what you planned it to do doesn’t mean it’s useless”.  – Thomas alva Edison

“सिर्फ इसलिए कि कोई चीज़ वह कार्य नहीं करती जिस कार्य के लिए आपने उसे बनाया था, उसका ये मतलब नहीं कि वो बेकार या अनुपयोगी है।”

Quote by thomas edison Never get discouraged if you fail. Learn from it. Keep Trying.

16. “Never get discouraged if you fail. Learn from it. Keep Trying.”- Thomas alva Edison

“असफल होने पर कभी निराश न हों। इससे सीखो। कोशिश करते रहो।”

17. 5% of the people think; 10% of the people think they think; and the other 85% would rather die than think.- Thomas alva Edison

“पाँच प्रतिशत लोग सोचते है। दस प्रतिशत लोग सोचते है कि वे सोचते है। और बाकी बचे हुए पिच्यासी प्रतिशत लोग सोचने से ज़्यदा मरना पसंद करते है।”

Quote by Thomas alva Edison

18. “When you have exhausted all possibilities, remember this: you haven’t”.- Thomas alva Edison

“जब आप सभी संभावनाओं से थक गए है, तब याद रखिये – ये आपने नहीं किया है।”

19. “There is far more opportunity than there is ability”. – Thomas alva Edison

“क्षमता से कहीं अधिक अवसर है।”

20. “Discontent is the first necessity of progress”. – Thomas alva Edison

“असंतोष प्रगति की पहली आवश्यकता है।”

Top 20 Thomas Edison Quotes

Insprational Quotes of Abdul KALAM || Top 30 MOTIVATIONAL QUOTES – OF GREATEST MOTIVATIONAL SPEAKERS || Read more about Thomas Edison at wikipedia

success & failure

Success & Failure – An Inspiration

अगर हार ना हो इस जीवन में तो जीत का भी कोई अर्थ नहीं , दोस्तों असफलता और सफलता (Success & Failure) यह दोनों शब्द है तो एक दूसरे के विपरीत लेकिन रहते हमेशा एक दूसरे के साथ ही हैं,  एकदम पक्के दोस्त की तरह बस फर्क इतना है कि असफलता मिलने पर नाकामयाब लोग बिखर जाते हैं और कामयाब लोग निखर जाते हैं |

दोस्तों इस दुनिया में ज्यादातर लोग कुछ ही असफलताओं (Failure) से हार मान लेते हैं, और बहुत ही कम लोग होते हैं जो असफलताओं को अपना दोस्त मानते हैं और उनसे कुछ सीखते हैं और तब तक कोशिश करते हैं जब तक वह अपने सोच को सच में ना बदल दे |

दोस्तों ऐसे ही कुछ महान जिद्दी लोगों के असफलताओं ( Failure) के किस्से आज में इस आर्टिकल के द्वारा आपको बताने वाला हूं , जिसकी शुरुआत हम उससे करेंगे जिसने दुनिया में असफलताओं (Failure) के सभी रिकॉर्ड तोड़ डाले हैं,  जी हां आज हम उसी व्यक्ति के बारे में बात करने वाले हैं जिसने अपने लक्ष्य को पाने के लिए हर संभव प्रयास किया और अंततः उसे हासिल किया |

Why Failure Is Good for Success?

# Success & Failure 1

Source : facebook

1. THOMAS ALVA EDISON (थॉमस अल्वा एडिसन)  –  महान्   आविष्कारक   थामस   ऐल्वा   एडिसन   का   जन्म   ओहायो     राज्य   के   मिलैन  नगर  में  11  फ़रवरी   1847   ई.  को   हुआ,  यह वही व्यक्ति है जिसने घर – घर में अपने बल्ब की रोशनी से उजाला किया , लेकिन असफलताओं का इनके बचपन से  ही  एक गहरा रिश्ता रहा है , बचपन में यह केवल 3 महीने ही स्कूल गए और वहां से उन्हें यह कहकर निकाल दिया कि यह एक मंदबुद्धि बालक है,  जिसके उपरांत इनकी प्रारंभिक शिक्षा इन्हें इनकी मां ने घर में ही दी,  और यह खुद भी लगे रहे सेल्फ स्टडी करने में,  लेकिन जब 12 वर्ष के हुए तो एक इंफेक्शन के कारण इनकी सुनने की क्षमता काफी कम हो गई परंतु इन्होंने उसे भी सकारात्मक रूप में लिया | उन्होंने यह सोचा कि चलो अब बाहर की आवाजें काम करते वक्त परेशान नहीं करेंगे,  जब उसके बाद  उन्होंने नौकरी करना शुरू किया तब इन्हें नौकरी से यह कहकर निकाल दिया गया कि यह एक व्यर्थ व्यक्ति  है (non productive) है यानी यह उनके किसी भी काम के लायक नहीं है |

लेकिन दिन में केवल 4 घंटे सोने वाले इस बंदे ने कभी भी, किसी भी असफलता को अपनी हार नहीं मानी,  इनका कहना था कि हार तो कोशिश की होती है, या उस तरीके की जो असफल रहा , 1869  ई.  में  एडिसन  ने अपने  सर्वप्रथम  आविष्कार  विद्युत मतदान गणक  को  पेटेंट  कराया।  नौकरी   छोड़कर   प्रयोगशाला   में   आविष्कार  करने   का   निश्चय   कर   निर्धन   एडिसन   ने   अदम्य   आत्मविश्वास   का   परिचय   दिया।

अगर एडिशन अपने शुरुआती असफलताओं से खुद ही हार मान लेते तो हो सकता है कि आज भी हम मोमबत्ती और लालटेन की रोशनी में ही बैठे होते और अपनी जिंदगी बिता रहे होते , परंतु यह मनुष्य भी विचित्र प्रकार का ठीक था इन्होंने कभी भी हार नहीं मानी और लगे रहें एक के बाद एक दूसरी कोशिश करने में

एडिशन अपनी हर असफल कोशिश से कुछ सीखें कुछ सीखते और लग जाते अपनी नई कोशिशों में और फिर फेल होते और फिर कोशिश करते , जितनी भी बार फेल होते हैं अपने कोशिश में, उतना ही खुद को करीब पाते अपनी मंजिल के, हर बार वह फेल नहीं होते उनका तरीका फेल होता उनकी कोशिश फेल होती, इन्होंने खुद को कभी भी फेलियर नहीं माना इसलिए 9999 बार कोशिशें करने के बाद एडिसन ने वह कर डाला, आखिर उन्होंने बल्ब का आविष्कार कर ही डाला,  एडिशन का कहना था वह 9999 बार फेल नहीं हुए बल्कि उन्होंने 9999 ऐसे तरीके ढूंढ जिससे बल्ब बन ही नहीं सकता था

दोस्तों आप सोच सकते हैं कि यह बंदा कितना जिद्दी रहा होगा, कईयों ने कितना मजाक उड़ाया होगा, कितने ताने मारे होंगे कितनी बार फेल होना आप खुद ही सोचो अगर आप एक काम को करने में केवल 10 बार फेल हो जाओगे तो क्या आप उस काम को दोबारा दोहराओगे??, क्या उस काम को आप करने के बारे में सोचोगे??

और सोचने पर भी एडिशन ने खूब कहा है कि इस दुनिया में केवल 5% लोग ही सोचते हैं , 10% लोग सोचते हैं कि वह सोचते हैं और बाकी बचे लोग जो 85% है वह सोचने से ज्यादा मरना पसंद करते हैं|

आप भी सोच के देखिएगा कि आप उन 5% में आते हैं या 10% में या फिर बाकी बचे 85% में|

Failure Is the Seed of Growth and Success

# Success & Failure 2

– दोस्तों अब बात करते हैं इस धरती के एक और जिद्दी फेलियर कि

source : facebook

2. ZACK MA – जैक मा अलीबाबा (ALI BABA) के संस्थापक और इस दुनिया के सबसे पावरफुल लोगों के सूची में आने वाले 21वें नंबर के व्यक्ति है

ZACK MA  का जन्म 10 सितंबर 1964 चीन के जिनजियांग प्रांत के  के हन्हाजु गाँव   में   हुआ था, इस इंसान की जिंदगी में काफी फेलियर आयी है ,  गरीबी में पैदा हुए जैसे तैसे करके इन्होंने ग्रेजुएशन करी और नौकरी की तलाश में निकल गए, इंटरव्यू पर इंटरव्यू देते गए और हर बार रिजेक्ट होते रहे, जब उनके शहर में पहली बार KFC आया तो उसमें नौकरी के लिए 24 लोगों का इंटरव्यू लिया गया और 24 में से 23 लोगों को नौकरी दे दी गई और यह इकलौते ऐसे इंसान थे जो उस नौकरी को पाने में असफल रहे|

उसके बाद पुलिस के भर्ती में इनके साथ पांच लोग थे जिनमें से 4 को भर्ती कर लिया गया और जैक मा फिर से इकलौते इंसान थे जिन्हें नौकरी नहीं मिली और उन्हें रिजेक्ट कर दिया गया, इन्होंने नौकरी के लिए 30 बार इंटरव्यू दिए और एक के बाद एक करके अस्वीकार होते गए |  पढ़ाई के लिए उन्होंने हार्वर्ड ( HARVARD) में 10 बार आवेदन (APPLY) किया लेकिन हर बार उनके आवेदन को रिजेक्ट कर दिया गया |

इनके समर्थन मैं कोई भी नहीं था, इनके माता-पिता बहुत गरीब थे और ना खुद के पास पैसा था लेकिन बंदा बहुत जिद्दी था एकदम जिद्दी खुद को कभी असफल माना ही नहीं अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से इन्होंने $2000 उधार लिए और खोल डाली खुद की कंपनी अलीबाबा(ALI BABA),  और जब उन्होंने कंपनी खोली तब लोगों ने उनका खूब मजाक उड़ाया और कहा कि यह सोच या तरीका ही बेकार है , यह कंपनी कभी पैसा नहीं बना पाएगी और जल्द ही बंद हो जाएगी,  लेकिन उन्होंने इन सब की बातों को सुनकर भी अनसुना किया , इन सब को दरकिनार किया और उनकी बातों को माना नहीं और लगे रहे और धीरे-धीरे बना डाली एक ऐसी कंपनी जिसे आज पूरी दुनिया अली बाबा(ALI BABA) के नाम से जानती है |

Success & Failure in Life

# Success & Failure 3

source : facebook

3.AMITABH BACHCHANSuccess & Failure story

दोस्तों अब बात करते हैं इस सदी के महानायक श्री अमिताभ बच्चन जी (Amitabh Bachchan) के बारे में जिनकी दमदार आवाज और अभिनय  हम सभी के दिलों पर राज करती है, अमिताभ बच्चन का जन्म 11 अक्टूबर 1942 में हुआ इनका शुरुआती नाम इंकलाब श्रीवास्तव था |

दोस्तों हम सभी इनकी आवाज के दीवाने हैं , एकदम कड़क आवाज परंतु एक समय ऐसा भी था फिल्मों में आने से पहले अमित जी (Amitabh Bachchan) ऑल इंडिया रेडियो में सिलेक्शन के लिए गए जहां उन्हें उनकी इसी आवाज के लिए रिजेक्ट कर दिया गया , उन्हें यह कहा गया कि उनकी आवाज रेडियो के लिए सही नहीं है, वे यहाँ से निराश नहीं हुए, उसके बाद उन्होंने फिल्मों में रोल के लिए बहुत सारे ऑडिशन दिए लेकिन उनकी लंबाई के कारण उन्हें कई बार रिजेक्ट कर दिया गया,  शुरुआत में जब मुंबई आए तब कई रातें उन्होंने मुंबई के मरीन ड्राइव पर बिताई|

  बड़ी कोशिशों के बाद उन्हें फिल्मों में काम मिलना शुरू हुआ लेकिन एक के बाद एक लगभग 12 फिल्में फ्लॉप हो गई,  लेकिन यह जनाब भी उसी ढीठ यानी जिद्दी इंसान की श्रेणी में आते हैं , अमित जी कभी हार नहीं माने  और लगे रहे अपने फैलियर्स को फेल करने के लिए और उसी दौरान इनकी किस्मत चमकी और उन्हें एक फिल्म मिली जंजीर (1973) और उन्होंने इस फिल्म में ऐसी दमदार भूमिका निभाई जिससे हमारे बॉलीवुड को एक नया सितारा मिल गया और उन्होंने अपनी आने वाले वर्षों में कई सुपरहिट फिल्में किये  जैसे शोले(1975), अमर,अकबर & अन्थोनी(1977), डॉन(1978), त्रिशूल(1978), कुली(1983)   आदि और कामयाबी के शिखर पर पहुंच गए |

लेकिन सुपरस्टार बनने के बाद एक समय ऐसा भी आया जब उनकी सभी फिल्में फ्लॉप होने लगी, उसके बाद उन्होंने राजनीति में एक नई पारी की शुरुआत की जनता ने उन्हें भारी मतों से जिताया,  लेकिन इसके बावजूद भी वह सफल नहीं हो पाए और जनता से किए गए वादों को ना पूरा कर पाने मैं उन्होंने इस्तीफा दे दिया | उसके बाद इन्होंने अपना नया प्रोडक्शन हाउस स्टार्ट किया ABCL के नाम से, उनके साथ 1996 की मिस वर्ल्ड   उनके साथ जुडी , प्रोडक्शन हाउस उनके के लिए अच्छी चल रही थी, लेकिन जल्द ही बकाया राशि का भुगतान करने में असमर्थ रहे , उसके उन्होंने खुद को लगभग दिवालिया(BANKRUPT) पाया|

इसके बाद लोगों को लगा  की अमिताभ बच्चन कभी कामयाब नहीं हो पाएंगे, लेकिन महानायक ने अपनी किसी भी फेलियर को अपनी हार नहीं मानी और और लगे रहे अपनी कोशिशों पर और अपनी कोशिशों के द्वारा अपनी दूसरी पारी की शुरुआत की  टीवी सीरियल कौन बनेगा करोड़ पति (KAUN BANEGA CROREPATI) से और अपने सारे कर्जो को उतार और फिर से जी हां एक बार फिर सफलता के नए कीर्तिमान स्थापित किए और आज भी उम्र के इस पड़ाव में टीवी, मूवीस और एडवर्टाइजमेंट में जो इनकी  डिमांड है वह खुद मिसाल है |

असफलता   आपको   झूठे   आत्मविश्वास   के   बजाय   सच्चा आत्मविश्वास     देती  है।   जो   सफलताएँ   आसान   होती   हैं   वे   अक्सर   असफलता   के   लिए   बहुत   जगह   छोड़ देती    हैं –   क्योंकि   सफलता   ने   आपको   यह   महसूस   कराया   है   कि   कुछ   भी   गलत   नहीं   हो  सकता।   असफलता   समझने   और   अधिक   सफल   होने   के  लिए   एक   शक्तिशाली   उपकरण   है | विफलताएँ   पछतावा   नहीं  अपितु अवसर   प्रदान   करते   हैं, अपने   अवसरों   की   सराहना   करें,   भले   ही   वे   छोटे क्यों ना  हों।  अपनी   गलतियों   को   स्वीकार   करें।   जानें की   क्या   गलत   हुआ।   मजबूत,   अधिक   लचीला   और   समझदार   बनें।   कोशिश   करते   रहें।   आप   असफल   होने   की   तुलना   में    बहुत   अधिक   प्रयास   न   करने   का   पछतावा   करेंगे, इसलिए हमें कभी प्रयास करना नहीं छोड़ना चाहिए , निरंतर प्रयासों से ही हमें  सफलता प्राप्त होती है |

Read success and failure story of JK Rowling